highlights
14869 Audio Programmes | 34 Program Languages | 45 Program Themes | 156 CR Stations | 56 CR Initiatives | and growing...

Aao Chale School (Ep - 15) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

मेवात की गोध मे रहने वाले सभी मेवातवासियों को मोसी की तरफ से प्यार भरा सलाम ओर बताओ मेवातवासियों केसे हो आप ओर क्या हाल चाल हे आपके ओर आपके बच्चो के मे उम्मीद करती हु की आप सभी ठीक ही होंगे ओर खेरियत से होंगे !अरे मेवातवासियों आप तो समझ ही गए होंगे की मोसी हाजिर हुई हे तो जरूर हमारा वही कार्यकर्म लेकर के आई सिक्षा से संबन्धित होता हे |

Aao Chale School (Ep - 13) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

मेवात की गोध मे रहने वाले सभी मेवातवासियों को मोसी की तरफ से प्यार भरा सलाम ओर बताओ मेवातवासियों केसे हो आप ओर क्या हाल चाल हे आपके ओर आपके बच्चो के मे उम्मीद करती हु की आप सभी ठीक ही होंगे ओर खेरियत से होंगे !अरे मेवातवासियों आप तो समझ ही गए होंगे की मोसी हाजिर हुई हे तो जरूर हमारा वही कार्यकर्म लेकर के आई सिक्षा से संबन्धित होता हे |

Aao Chale School (Ep - 14) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

अब भाई बात भी एसी बुढ़ापा है बुढ़ापे मे तो कुछ जादा ही ठंड लगती है अब आप सोच रे होंगे की मोसी बूढ़ी हो गई अब भाई 35 साल की उम्र हो गई बुढ़ापा तो आना ही था भाई अरे साथियो आपसे बात करते हुये घनी देर हो गई अब काम की बात भी कर लेते है वैसे तो फालतू की बाते तो ये भी नहीं थी साथियो आज हम बातचीत करेंगे की पेरेंट्स टीचरो से कभी मिलते नहीं है क्या वजह स है की माता – पिता टिचरो से क्यो नहीं मिलते है क्या वजह है  क्या टीचरो से मिलने के लिया उनके पास टाइम नहीं होता है या वो मिलना ही नहीं चाहते है तो साथियो मेरे साथ मेरी कुछ बहने बेठी है |

Aao Chale School (Ep - 16) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

साथियो, अभी आप मिले अपनी एक बहन से की वो किस वजह से अपने बच्चो का होमेवर्क नहीं देखती है अब इसी के साथ आगे बढ़ते है ओर मिलते है एक ओर बहन से की वो किस तरीके से बच्चो को संभालती है |

Aao Chale School (Ep - 14) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

अब भाई बात भी एसी बुढ़ापा है बुढ़ापे मे तो कुछ जादा ही ठंड लगती है अब आप सोच रे होंगे की मोसी बूढ़ी हो गई अब भाई 35 साल की उम्र हो गई बुढ़ापा तो आना ही था भाई अरे साथियो आपसे बात करते हुये घनी देर हो गई अब काम की बात भी कर लेते है वैसे तो फालतू की बाते तो ये भी नहीं थी साथियो आज हम बातचीत करेंगे की पेरेंट्स टीचरो से कभी मिलते नहीं है क्या वजह स है की माता – पिता टिचरो से क्यो नहीं मिलते है क्या वजह है  क्या टीचरो से मिलने के लिया उनके पास टाइम नहीं होता है या वो मिलना ही नहीं चाहते है तो साथियो मेरे साथ मेरी कुछ बहने बेठी है |

Aao Chale School (Ep - 12) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

तो साथियो अब इसी के साथ आगे बढ़ते हे ओर बात चित करते है आज के मुद्दे पर मुद्दा तो हमारी बहनों का ही है क्योंके मे जब गाँव मे गई थी मिलने तो हमारी बहनों ने ही कुछ बाते बतलाई थी तो उनही की बाते मे आपको सुनवाउंगी उन्होने क्या कहा था उनकी कुछ बाते आपको मे ही बता देती हु उन्होने कहा की मोसी आप तो रेडियो पर बात करती हो अपनी बहनों के बारे तो आज मोसी ये बात करेंगे टीचर स्कूल मे बच्चो का होमेवर्क तक नहीं देखते है मैंने कहा ठीक है ये बात भी बहुत अच्छी है तो सबसे पहले हमारी एक बहन हमारे साथ जुड़ी हुई हे इनकी बाते जान लेते है की ये किया कहती है |

Aao Chale School (Ep - 11) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

अरे साथियो भूल गए आप क्या चलो कोई बात नहीं मारी बहनों कार्यकर्म आओ चले स्कूल मे मे हु आपकी मोसी वैसे तो आप मुझे बहुत पहले से ही जानते हो पर अभी की बात है की एक दिन मे गाँव से निकल कर जा रही थी वहाँ पर मेरी कुछ बहनों ओर भाइयो से मुलाक़ात हुई थी तो मुलाक़ात के दोरान कुछ बातचीत हुई थी |

aao Chale School (Ep - 6) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

मेवात की गोध मे रहने वाले सभी मेवातवासियों को मोसी की तरफ से प्यार भरा सलाम ओर बताओ मेवातवासियों केसे हो आप ओर क्या हाल चाल हे आपके ओर आपके बच्चो के मे उम्मीद करती हु की आप सभी ठीक ही होंगे ओर खेरियत से होंगे !अरे मेवातवासियों आप तो समझ ही गए होंगे की मोसी हाजिर हुई हे तो जरूर हमारा वही कार्यकर्म लेकर के आई सिक्षा से संबन्धित होता हे |

Aao Chale School (Ep - 10) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

जो वादा क्या था वो अपना वादा निभाने के लिए आ गई हे ! आपकी प्यारी सी मोसी अरे मे अपना वादा भूल भी केसे जाती आखिर वादा क्या था मैंने अपने साथियो से ! ओर अगर मे वादा तोड़ भी देती तो आप ही कहते की मोसी झूठ बोलती हे हेना साथियो  !इसीलिए मे उसी टाइम पर फिर से हाजिर हो गई जिस टाइम के लिए मैंने आपसे कहा था |

Aao Chale School (Ep - 9) ( Mev)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

अरे  भाई जो एक नयो कार्यकर्म शुरू हुयों हे करो –याद जरा किया पता याद आ ही जाए , वाह साथियो आखिरकार आ ही गया याद अरे  याद आता भी क्यो नहीं आखिर कार्यकर्म ही इतना प्यारा हे की भुला ही नहीं जाता पता हे साथीयों कल मे खेडला गाँव गई थी तो वहाँ पर कुछ महिलाए ओर कुछ बच्चे साथ मे भाई जान भी बेठे थे |

Mev

32 Programme(s)

Mev is a dialect native to the people of Mewat in Indian state of Haryana. Mev is a combination of Haryanvi and Urdu language and belongs to the Mirasis.